Disclaimer : This website is for informative purpose only and we do not claim this to be an official government website. We try our best to update you frequently regarding the PMAY Scheme. However for latest info you can also visit : pmaymis.gov.in

Rashtriya Vayoshri Yojana 2020 | [RVY]

BPL से संबंध रखने वाले वरिष्ठ नागरिकों को सरकार द्वारा भौतिक सहायता और जीवन सहायक उपकरण उपलब्ध कराने हेतु मोदी सरकार ने देश के बुजुर्गों को ध्यान में रखते हुए “राष्ट्रीय वयोश्री योजना को आरंभ किया है । जैसे जैसे व्यक्ति की उम्र बढ़ती जाती है उसे शारीरिक परेशानियों का सामना करना पड़ता है ।  इसी कारण उनको अपना जीवन बोझ लगने लगता है । इन्ही शारीरिक और आर्थिक समस्याओ का से लड़ रहे देश के वृद्धजनों के लिए केंद्र सरकार द्वारा ये Yojana लाई गई है । इसके अंतर्गत किसी भी प्रकार की विकलांगता या कमजोरी का सामना कर रहे देश के वरिष्ठ नागरिक जो की गरीबी रेखा के नीचे अपना जीवन यापन कर रहे है को फायेदा होगा ।

यदि आप जानना चाहते है की  this yojana started in which city? और इस स्कीम से जुड़े UPSC And PIB के सभी सवालों के जवाब आपको नीचे लिखे आर्टिकल में मिलेंगे .

Main Objectives of This Scheme

देश के बुजुर्गों के लिए National Government ने शुरूकी इस Plan के मुख्य उद्देश्य इस प्रकार है:

  • आर्थिक रूप से कमजोर देश के Senior Citizen को एक बेहतर जीवन यापन करने के योग्य बनाना।
  • बुजुर्गों के अंदर एक आत्मविश्वास पैदा करना जिससे उनके अंदर जिंदगी जीने का नया जोश पैदा हो सके।
  • शारीरिक रूप से अक्षम बुजुर्गों को Assisted-living Devices (सहायक जीवन उपकरण) प्रदान किए जाए जिनकी मदद से वे रोजमर्रा स्वयं कर सके ।
  • वृद्ध व्यक्तियों को आत्मनिर्भर बनाकर उनकी जीवन शैली में सुधार करना ।
  • इस Plan के कार्यान्वयन के लिए केंद्र सरकार की ओर से 477  करोड़ रुपये की लागत राशि का लक्ष्य रखा गया ।

Registration Process

  • Scheme के पंजीकरण के लिए सबसे पहले आधिकारिक वेबसाईट पर जाए
  • होम पेज पर आपको sign in का विकल्प दिखेगा उसपर click करे|
  • फिर वह आपसे आपका मोबाईल नंबर मांग जाएगा उसे दर्ज करे|
  • फिर आपके पंजीकरत मोबाईल नंबर पर एक OTP आएगा
  • otp दर्ज करने के बाद आपको  अपने पसंद का पासवर्ड दर्ज करने को कहा जाएगा
  • मनपसंद पासवर्ड दर्ज करे ओर सबमिट करे|

Rashtriya Vayoshri Yojana Launched Date

राष्ट्रीय वयोश्री योजना की घोषणा वित्तीय वर्ष 2015-16 के दौरान तत्कालीन वित्तीय मंत्री अरुण जेटली जी के द्वारा की गई । तत्पश्चात साल 2017 में 1 अप्रैल को आंध्र प्रदेश राज्य के नेल्लोर में सामाजिक न्याय एवं सशक्तिकरण मंत्रालय ने इस Scheme को लागू किया । जबकि महाराष्ट्र में ये Yojana 4 जून 2017 को लॉन्च की गई ।

Supported Devices under this Plan

इस योजना के तहत, निम्नलिखित सहायक-जीवित उपकरण बुजुर्ग लाभार्थी को उनके शारीरिक अक्षमता के आधार पर प्रदान किए जाएंगे।जिन यंत्रों का वितरण किया जाएगा वह इस प्रकार है :

  1. बैसाखी ( Walking sticks )
  2. कान की मशीन ( Hearing Aids)
  3. चश्मा (Spectacles)
  4. तिपाई (Tripods)
  5. कोहनी की बैसाखी (Elbow crutches)
  6. वॉकर (Walkers)
  7. पहियेदार कुर्सी (Wheelchair)
  8. कृत्रिम डेंचर्स (Artificial Dentures)
  9. कृत्रिम दांत (Artificial Teeth)

How to fill Online Application Form?

इस Yojana के लिए आवेदन करने के लिए इसकी official website पर जाकर उसका आवेदन फॉर्म download कर लीजिए । इस फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारी को सही -सही भर दीजिए । फॉर्म को अच्छी प्रकार से भरने के बाद मांगे गए दस्तावेजों की फोटो कॉपी लगाकर अपने पास के Ministry of Social Justice and Empowerment में जमा करा दीजिए इस प्रकार आपका आवेदन पूरा हो जाएगा ।

Eligibility Criteria

इस Yojana का लाभ उठाने के इच्छुक व्यक्तियों को निम्नलिखित मापदंडों को पूरा करना होगा तभी वे इस Plan का लाभ उठा सकते है :

  • इस Scheme का लाभ उठाने के लिए व्यक्ति का भारत का नागरिक होना अनिवार्य है ।
  • मोदी सरकार की स्कीम का फायदा 60 साल या उससे अधिक उम्र के लोगों द्वारा ही लिया जा सकता है ।
  • इस महत्वकाँछी Scheme का फायेदा उठाने के लिए लाभार्थी का गरीबी रेखा के नीचे होना अनिवार्य है। अर्थात इसका लाभ BPL कार्ड धारक ही उठा सकते है ।

Documents Required for RV Yojana

2011 की जनगणना के अनुसार देश में लगभग 10 करोड़ से अधिक Senior Citizen है जिनमे से करीब 55 लाख बुजुर्ग उम्र दराज बीमारियों से पीढ़ित होते है । 2026 तक जिसकी संख्या लगभग 18 करोड़ तक पहुचने की उम्मीद है । इसलिए सरकार ने इन बुजुर्गों को सहायता प्रदान करने के लिए इस योजना का शुभारंभ किया ।

इस योजना के लिए आवेदन करने के लिए जरूरी दस्तावेज निम्नलिखित है :

  • पहचान प्रमाण पत्र – आधार कार्ड / पासपोर्ट / ड्राइविंग लाइसेंस
  • गरीबी रेखा से नीचे का प्रमाण -पत्र (Certificate of BPL)
  • किसी भी प्रकार की बीमारी के लिए चिकित्सक का प्रमाण -पत्र
  • गरीबी रेखा से जुड़े बुजुर्ग नागरिकों के लिए केंद्र या राज्य सरकार द्वारा प्रदत्त पेंशन स्कीम का प्रमाण पत्र

Key Features of the Scheme

  • इस स्कीम के अंतर्गत समय -समय पर कैम्प लगवाए जाएंगे जिसके तहत गरीब और असहाय  बुजुर्गों को जरूरत के हिसाब से उपकरण उपलब्ध कराए जाएंगे ।
  • जिस घर में एक से अभिक बुजुर्ग है उस घर में एक ही बुजुर्ग को सहायक उपकरण दिए जाएंगे ।
  • इस योजना के तहत बुजुर्गों के मेडिकल checkup के लिए कैम्पों का आयोजन किया जाएगा ।
  • लाभार्थियों में कम से कम 30% महिलायें लाभ हासिल करने की पात्र होंगी।
  • वितरित किए गए सभी यंत्रों के maintanance का भार ALMICO द्वारा वहाँ किया जाएगा ।
  • इस Planयोजना के कार्यान्वयन की अवधि(Duration) 2019-2020 तय की गई है ।

 State Covered under Vayo Shree Yojna

नीचे दिए गए राज्यों के निम्न क्षेत्र के लोग इस स्कीम का लाभ ले सकेंगे।

  • अरुणाचल प्रदेश : – पसिंघट और पश्चिमी कमेंग
  • अंडमान और निकोबार :- उत्तरी, मध्य और दक्षिणी क्षेत्र
  • आंध्रप्रदेश :-विशाखापत्तम
  • असम :- सोनीपुर और कामरुप
  • बिहार :- बक्सर एवं पश्चिमी चंपारण
  • छत्तीसगढ़:- रायपुर( Raipur)
  • गोवा :- दक्षिणी गोवा
  • गुजरात :- वड़ोदरा एवं गुजरात
  • हरियाणा :- करनाल
  • हिमाचल प्रदेश :- शिमला एवं हमीरपुर
  • जम्मू-कश्मीर :-श्री नगर एवं लखीमपुर में रांची एवं गुमला
  • केरल :- कोच्ची व थिरुवानंथपुरम्
  • कर्नाटक :- धारवाड़ एवं दक्षिण बैंग्लोर
  • मध्यप्रदेश :- उज्जैन एवं खंडवा
  • महाराष्ट्र :- नागपुर(Nagpur) एवं धुले
  • दिल्ली :- चांदनी एवं करोल बाग
  • पंजाब :- गुरदासपुर एवं होश्यारपुर
  • राजस्थान :- झालावाड़ एवं बीकानेर
  • ओडि़सा :- अंगुल एवं सुंदरगढ
  • तमिलनाडु :- साउथ चेन्नई, कन्याकुमारी,
  • तेलंगाना :-हैदराबाद, करीमनगर
  • उत्तराखंड :- हरिद्धार, अल्मोड़ा
  • उत्तरप्रदेश :- लखनऊ एवं वाराणसी
  • इसके साथ पश्चिम बंगाल, सिक्किम , मणिपुर, त्रिपुरा, लक्षद्धीप,नागालैंड, पुडुचेरी, आदि राज्यों के कुछ इलाकों के वरिष्ठ लोगों को इसका फायदा मिल सके।
No Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *