Disclaimer : This website is for informative purpose only and we do not claim this to be an official government website. We try our best to update you frequently regarding the PMAY Scheme. However for latest info you can also visit : pmaymis.gov.in

[SSY] सुकन्या समृद्धि योजना 2019 – ऑनलाइन फॉर्म [Interest Rate] कैलकुलेटर In Hindi

   Sarkari Yojana

Sukanya Samriddhi Yojana 2019 Online Application Form. Check Complete details of SSY such as Benefits, Interest Rate, Eligibility. SSY In Hindi.

सुकन्या समृद्धि योजना 2019 अपडेट (लेटेस्ट न्यूज़) | सुकन्या समृद्धि योजना इंटरेस्ट रेट 2019 | सुकन्या समृद्धि योजना 2019 की जानकारी | सुकन्या समृद्धि योजना कैलकुलेटर इन हिंदी | सुकन्या समृद्धि योजना के नियम 2019 | सुकन्या समृद्धि योजना चार्ट |

सुकन्या समृद्धि योजना 2019 / Sukanya Samriddhi Yojana [SSY]

सुकन्या समृद्धि योजना (Sukanya Samriddhi Yojana) बालिकाओं के लाभ के लिए “बेटी बचाओ बेटी पढाओ योजना” के हिस्से के रूप में एक सरकार समर्थित बचत योजना है। इसे 10 वर्ष से कम आयु की बालिका के माता-पिता द्वारा खोला जा सकता है। माता-पिता लड़कियों के लिए इस तरह के दो खाते खोल सकते हैं (यदि दो से अधिक लड़कियाँ हैं तो तीसरा या चौथा खाता नहीं खोल सकते हैं)। इन खातों में 21 वर्ष या 18 वर्ष की आयु के बाद बालिका विवाह होने तक का कार्यकाल होता है।

सुकन्या समृद्धि योजना के लाभ

यहां हमने सुकन्या समृद्धि खाता खोलने के कुछ प्रमुख लाभों को साझा किया है-

  • इस योजना के तहत आयकर अधिनियम की धारा 80 सी के तहत विभिन्न कर लाभ हैं।
  • यह योजना बाजार की अन्य योजनाओं की तुलना में ब्याज की उच्च दर प्रदान करती है।
  • खाते में सालाना जमा की जाने वाली न्यूनतम राशि बहुत कम है, अर्थात 250 /- रु
  • इस योजना के तहत खाता पूरे भारत में हस्तांतरणीय है।
  • एक बार लड़की 10 वर्ष की आयु प्राप्त कर लेती है, यदि वह चाहे तो अपने हिसाब से अपना खाता संचालित कर सकती है।
  • खाता लड़की की परिपक्वता पर (SSY खाता होने पर) कार्यवाही प्राप्त होती है।
  • यह योजना लड़की और उनके माता-पिता दोनों के लिए फायदेमंद है क्योंकि यह दोनों की मदद करता है।

सुकन्या समृद्धि योजना (SSY) खाते के लिए पात्रता

बेटी बचाओ, बेटी पढाओ योजना के हिस्से के रूप में SSY खाता खोलने के लिए मुख्य पात्रता मानदंड निम्नलिखित हैं:

  • सुकन्या समृद्धि खाता केवल उसके माता-पिता या कानूनी अभिभावकों द्वारा बालिकाओं के नाम से खोला जा सकता है।
  • खाता खोलने के समय बालिका की आयु 10 वर्ष से कम होनी चाहिए।
  • एकाधिक सुकन्या समृद्धि खाते एकल बालिका के लिए नहीं खोले जा सकते।
  • केवल दो SSY खातों को एक परिवार के लिए अनुमति दी जाती है यानी प्रत्येक बालिका के लिए एक।

सुकन्या समृद्धि योजना में निवेश कैसे करें – आवश्यक दस्तावेज

इस योजना के माध्यम से आप अपने पास के पोस्ट ऑफिस या निजी व सरकारी बैंकों की नामित शाखाएं में सुकन्या समृद्धि योजना का खाता खुलवाकर कुछ निश्चित राशि जमा करवा सकते है। आपको आवश्यक फॉर्म और चेक/ड्राफ्ट द्वारा प्रारंभिक जमा के साथ केवाईसी के लिए कुछ दस्तावेज जैसे पासपोर्ट, आधार कार्ड इत्यादि प्रस्तुत करना होगा। इस योजना को बेटी बचाओ, बेटी पढाओ योजना की सफलता सुनिश्चित करने में मदद करने के लिए बनाया गया है।

सुकन्या समृद्धि योजना के लिए आवेदन पत्र

सुकन्या समृद्धि योजना (एसएसवाई) के खाते के लिए आप किसी भी सरकार व निजी बैंक, पोस्ट ऑफिस पर जाकर एसएसवाई एप्लीकेशन फॉर्म को प्राप्त कर सकते है। इसके साथ ही आप आरबीआई वेबसाइट से एसएसवाई न्यू अकाउंट एप्लीकेशन फॉर्म भी डाउनलोड कर सकते हैं।

एसएसवाई [SSY] आवेदन पत्र ऑनलाइन कैसे डाउनलोड करें

सुकन्या समृद्धि योजना आवेदन पत्र विभिन्न स्रोतों से डाउनलोड किया जा सकता है जैसे:

  • भारतीय रिजर्व बैंक की वेबसाइट
  • द इंडिया पोस्ट वेबसाइट
  • सरकारी बैंकों की वेबसाइट (SBI, PNB, BOB)
  • निजी क्षेत्र के बैंकों की वेबसाइट (जैसे आईसीआईसीआई बैंक, एक्सिस बैंक और एचडीएफसी बैंक)

जबकि एसएसवाई आवेदन पत्र डाउनलोड करने के लिए कई स्रोत हैं तो इनके उपयोग से आप इस योजना के लिए आवेदन कर सकते है

एसएसवाई खाते के लिए न्यूनतम और अधिकतम राशि

सुकन्या समृद्धि खाते का न्यूनतम वार्षिक योगदान 250 रु है और एक वित्तीय वर्ष में अधिकतम 50 लाख रु है। आपको खाता खोलने की तारीख से 15 साल तक हर साल कम से कम न्यूनतम राशि का निवेश करना होगा। इसके बाद खाता परिपक्वता तक ब्याज अर्जित करना जारी रखेगा।

सुकन्या समृद्धि योजना खाते का कार्यकाल

सुकन्या समृद्धि योजना का कार्यकाल उस समय के बराबर होता है जब बालिका की आयु 21 वर्ष या उसके विवाह की आयु बहुमत 18 वर्ष हो। हालांकि योगदान केवल 15 वर्षों के लिए किए जाने की आवश्यकता है। इसके बाद खाता परिपक्वता तक ब्याज अर्जित करना जारी रखता है, भले ही इसमें कोई जमा न किया गया हो।

No Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *